प्रेस विज्ञप्ति : भाजयुमो के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष श्री अनुराग ठाकुर ‘राष्‍ट्रीय एकता यात्रा’ निकालेंगे

दिनांक : 18 दिसम्बर, 2010

प्रेस विज्ञप्ति

देश की एकता एवं अखण्डता के लिए 12 जनवरी 2011 को मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अनुराग ठाकुर कोलकता से ”राष्ट्रीय एकता यात्रा”’ शुरू करेंगे। यात्रा देश के विभिन्न राज्यों से होती हुई 26 जनवरी, 2011 को श्रीनगर पहुंचेगी, जहां मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अनुराग ठाकुर लाल चौक में तिरंगा फहराएंगे। इस अवसर पर देश के सभी हिस्सों से पहुंचे युवा शामिल होंगे।

विगत छह महीनों से जम्मू-कश्मीर अशांत है। आज कश्मीर में हालात जितने खराब है, उतने पहले कभी नहीं थे। जम्मू-कश्मीर अलगावरूपी बारूद के ढ़ेर पर है। अलगाववादी सीमापार से शक्ति प्राप्त कर घाटी को भारत से अलग करने का हर संभव प्रयास कर रहे हैं। जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री द्वारा कश्मीर के भारत के साथ हुये विलय को चुनौती दी जा रही है। अलगाववादी पूरे देश में घूम-घूम कर भारतीय संप्रभुता को चुनौती दे रहे है। केन्द्र सरकार ने तीन वार्ताकारों का दल नियुक्त किया है, उनकी भाषा और एजेण्डा अलगाववादियों से अलग दिखाई नहीं देता।

युवा मोर्चा का मानना है कि जम्मू-कश्मीर की वर्तमान परिस्थितियों के लिये केन्द्र की यूपीए सरकार व राज्य की नेशनल कांफ्रैस सरकार जिम्मेदार हैं। अलगाववादियों के खिलाफ ठोस कार्यवाही करनी चाहिये। लेकिन इसकी बजाये सरकार लचर नीति अपना रही है, जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है।

युवा मोर्चा देश का राष्ट्रवादी युवा संगठन है। हम मानते है कि कश्मीर की समस्या से हरेक भारतीय जुड़ा है। कश्मीर की समस्या को लेकर विगत चार महीनों में 18 राज्यों में 39 बड़ी सभायें ”भारत प्रथम अभियान” के अन्तर्गत की गई। जम्मू-कश्मीर के विलय का स्मरण करते हुये 26 अक्टूबर, 2010 को पूरे भारत में जिला स्तर पर संकल्प दिवस मनाया गया।

‘राष्ट्रीय एकता यात्रा’ का शुभारंभ

भारतीय जनता युवा मोर्चा ‘भारत प्रथम अभियान’ के अर्न्तगत कोलकाता (पश्चिम बंगाल) से ‘राष्ट्रीय एकता यात्रा’ का शुभारंभ करेगा, क्योंकि यहां की माटी युवाओं के आदर्श स्वामी विवेकानंद, नेताजी सुभाषचंद्र बोस और डॉ. श्यामाप्रसाद मुकर्जी की कर्मस्थली रही है। यह यात्रा डॉ. श्यामाप्रसाद मुकर्जी की जन्मस्थली से उनके बलिदान स्थली तक युवा दिवस (12 जनवरी 2010) से गणतंत्र दिवस (26 जनवरी 2011) तक निकाली जाएगी। इस दौरान 11 राज्यों में 150 जन-जागरण सभाएं आयोजित की जाएगी। इस क्रम में देश की एकता और अखंडता के लिए शहीद हुए जवानों के परिवारों का सम्मान किया जाएगा।

राष्ट्रध्वज का सम्मान

यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि अपने ही देश में राष्ट्रध्वज तिरंगे का अपमान किया जाता है। जम्मू-कश्मीर में ऐसे हालात पैदा कर दिए गए हैं कि अनेक जगहों पर राष्ट्रध्वज तिरंगा नही फहराया जा सकता है। भारतीय जनता युवा मोर्चा ने तय किया है कि राष्ट्रप्रेम की साकार अभिव्यक्ति के लिए श्रीनगर के लाल चौक पर राष्ट्रध्वज तिरंगा फहराया जायेगा।

इसी क्रम में 25 जनवरी 2010 को जम्मू में विशाल रैली आयोजित की जाएगी, जिसमें युवा मोर्चा के लाखों कार्यकर्ता भाग लेंगे और 26 जनवरी को श्रीनगर स्थित लालचौक पर राष्ट्रध्वज तिरंगा फहराकर राष्ट्रीय भावना को पुष्ट किया जाएगा। इस यात्रा का उद्देश्य है- समाज के विभिन्न वर्गों के बीच जम्मू-कश्मीर की समस्या को लेकर जन-जागरण करना और राष्ट्रीय भावना का अलख जगाना।

भारतीय जनता युवा मोर्चा निम्नलिखित मांग करता है :

• कश्मीर समस्या को मात्र मजहबी समस्या न माना जाए। सभी राजनैतिक दल इस समस्या को दलीय राजनीति से ऊपर उठकर राष्ट्रीय समस्या के रूप में देखें।

• सरकार कमजोर रवैया छोड़े और अलगाववादियों को दो टूक शब्दों में बताये कि जो कुछ भी होगा वह संविधान के दायरे में होगा।

• धारा 370 समाप्त होनी चाहिए।

• सशस्त्र बल विशेषाधिकार अधिनियम से किसी प्रकार की छेड़छाड़ न हो।

• भारतीय संसद ने सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कर संकल्प लिया था कि पाक अधिकृत कश्मीर को वापस लिया जायेगा। संसद के इस संकल्प को पूरा करने हेतु सरकार आवश्यक कदम उठाये।

• कश्मीर के युवाओं और आम लोगों के लिये सुरक्षित, संपन्न और उत्पीड़न मुक्त जीवन को सुनिचित किया जाये।

• विस्थापित कश्मीरी पंडितों का सम्मान जनक प्रकार से कश्मीर घाटी में पुनर्वास होना चाहिये।

हम मानते हैं कि सारा कश्मीर भारत का है और समूचा भारत कश्मीरियों का है। कश्मीर का दर्द भारत का दर्द है। हमें इसे महसूस करना होगा। मां भारती देश के नौजवानों को पुकार रही है। प्रत्येक भारतवासी कश्मीर के प्रति अपने राष्ट्रीय दायित्व को स्वीकारे, तभी कश्मीर बचेगा और देश भी।

राष्ट्रीय एकता यात्रा

मुख्य बिन्दु

• यात्रा 11 राज्यों से गुजरते हुए लगभग 3066.54 हजार किलोमीटर की दूरी तय करेगी।

• यात्रा के क्रम में 150 जनजागरण सभाएं आयोजित की जाएंगी।

• जगह-जगह पर देश के शहीदों के परिवार को सम्मानित किया जाएगा।

• 25 जनवरी 2011 को जम्मू में विशाल जनसभा का आयोजन किया जाएगा।

• 26 जनवरी 2011 को लालचौक, श्रीनगर पर तिरंगा फहराया जायेगा

• तिरंगा वाहिनी – प्रत्येक राज्य में जिला एवं मंडल स्तर पर तिरंगा वाहिनी का गठन किया जायेगा।

• संकल्प पखवाड़ा – 25 दिसम्बर से 10 जनवरी तक ”चलो कश्मीर संकल्प” पखवाड़ा मनाया जायेगा।

मनोरंजन मिश्र

राष्ट्रीय महामंत्री

राष्ट्रीय प्रभारी, यात्रा